Thursday, September 15, 2016

दलित अच्छेलाल राहुल गाँधी को वोट नहीं देगा,साइकिल पर सवार !

www.pravasnamakhabar.com and www.bundelkhand.in
#बुंदेलखंड
राहुल गाँधी के मुंह बोले पिता अच्छेलाल बने समाजवादी !
बाँदा - राहुल गाँधी अपनी 'किसान खाट यात्रा ' पर आज बुंदेलखंड के बाँदा आ रहे है ! बीते गुरुवार धर्मनगरी चित्रकूट में थे ! स्थानीय कांग्रेसी नेताओ ने संभल से मंगाई चारपाई / खाट पर चर्चा की रिहर्सल कर ली है ! किसान नेताओं से संपर्क किया गया है लेकिन बोलेंगे वे ही जो 7266 करोड़ के बुंदेलखंड पैकेज,उसके बाद जारी राहत मुआवजा राशी, कर्जमाफी,यूपीए स्कैम पर सवाल न खड़े करे ! बीते इसी वर्ष फरवरी माह में राहुल गाँधी महोबा में रोड शो किये थे ,अखिलेश यादव के दौरे से मची सियासी हलचल पर ! अब चुनाव निकट है और कांग्रेस पर संकट विकट है ! तो उसका समाधान किसान यात्रा हो सकती है ऐसा राहुल मानते होंगे ! नहीं तो अनायास किसान कैसे याद आते ? बीते गर्मी में भयावह जलसंकट और सिलसिलेवार किसान आत्महत्या में जनपथ से नहीं निकलने वाले राहुल आज बुंदेलखंड आये है ! चित्रकूट की रामनगरी में एक कहावत है ' चित्रकूट में रम रहे रहिमन,अवध नरेश,जा पर विपदा पडत है सो आवत यही देश ' !
                                        

बाँदा के नरैनी क्षेत्र के ग्राम माधवपुर का रहवासी दलित अच्छेलाल रैदास अब समाजवादी हो गया है ! मालूम रहे फरवरी माह में अखिलेश यादव ने ' इंडिया टुडे' की रपट को संज्ञान लेकर उसे दो लाख रूपये,एक लोहिया आवास दिया था ! इसके पूर्व 15 जनवरी 2008 को राहुल गाँधी अच्छेलाल के पास आये थे ! दस जनवरी को उसका एक पुत्र बीमारी से चलबसा था ! तब भी अच्छेलाल को टीवी मर्ज से हलकान देखकर कांग्रेसी खाट से राहुल गाँधी के पास लाये थे ! राहुल गाँधी ने कर्जदार किसान ( 6 बीघा परती जमीन ) अच्छेलाल से कहा ' मुझे अपना पिता मानो,मै तुम्हारा बेटा तो नहीं लौटा सकता लेकिन आगे का दुःख दूर करूँगा ' ! खैर उसके बाद राहुल गाँधी अन्य दलितों की तरह यहाँ भी नहीं पधारे ! आठ साल के वनवास से उबरे इस किसान को एक रपट ने समाजवादी बना दिया ! ये उनके लिए भी सबक हो सकता है जो खुद को दलित मसीहा ( मायावती ) कहती है ! उधर महोबा में भी वो किसान राहुल की राह तक रहा है जहाँ फरवरी में उन्होंने चाय पी थी ! मेरा सवाल इतना ही क्या राहुल गाँधी प्रधानमंत्री मोदी को इस दबाव में ले पाए अपनी सरकार के बाद कि केन्द्रीय किसान आयोग बने,मौसम से जुआ खेलने वाले किसानों का कर्जा माल्या / अम्बानी की तर्ज पर अनदेखा ( माफ़ ) किया जावे !,बुंदेलखंड पैकेज की लटकी सीबीआई जाँच कब करवा पाएंगे ,मनारेगा सीबीआई जाँच का क्या हुआ यह आपके कार्यकाल से लटकी है !,बुंदेलखंड को आपदा प्रभावित क्षेत्र घोषित करके यहाँ खनन नीति,केन-बेतवा लिंक की क्या आवश्यकता है ? खाट पर चर्चा हो या चाय पर क्या आपमें से किसी ने किसान को वास्तव में ' अन्नदाता ' स्वीकार किया है ! अगर हाँ तो पांच साल में कितने मर्तबा किसानों की मांग पर आपने भूख हड़ताल,आन्दोलन,दलित मिलन और अपने कुनबे की अवैध सम्पति से किसानों को आखत / राहत दी है विदर्भ और बुन्देलखंड में ? मोदी से सवाल करना मै नाहक जुमला समझता हूँ ! #आशीषसागर

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home