Thursday, August 25, 2016

बारह किलोमीटर तक मृत पत्नी की लाश लिए चलता रहा मांझी !

www.pravasnamakhabar.com and www.bundelkhand.in
एक दसरथ मांझी ने पहाड़ तोडा था ये 
मांझी पत्नी की लाश ढो रहा है मगर ज़िम्मेदार कौन है ?
https://www.youtube.com/watch?v=s7vsqHQ84gQ
निजामो की चमड़ी जब बेशर्म होकर मोटी हो जाती है, स्थानीय आवाम जब नपुंसक हो तमाशाई बनते हुए ! तब उड़ीसा के कालाहांडी इलाके में एक आदिवासी को अपनी पत्नी की लाश 12 किलोमीटर बेटी के रुदन के साथ विकास की सैया पर निकालनी पड़ती है ! प्रवचन से विकास अगर होता है तो निश्चित यह भारत ही हो सकता है ! सरकारी व्यवस्था से बेदम हुए इस आदमी को अब लाल सलाम कहने का पूरा क़ानूनी अधिकार मिलना चाहिए ! मीडिया ने कितनी शिद्दत से ये वीडियो बनाया है जबकि इससे पहले पीड़ित की मदद की जा सकती थी ! खबर के लिए सब कुछ दांव पर है ! #आजादभारतमेंविकास
                                               

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home